Thursday, April 18, 2024

अर्की का अम्बुजा सीमेंट प्लांट दाड़लाघाट हुआ अनिश्चितकाल के लिए बन्द,हजारों लोगों पर पड़ेगा इसका असर ।

- Advertisement -

बाघल टुडे (अर्की):- हिमाचल के जिला सोलन के दाड़लाघाट में स्थापित अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड एसीएसल दाड़लाघाट ने बुधवार देर रात को सुल्ली व रौड़ी प्लांट को अनिश्चितकाल तक बन्द करने व कर्मचारियों को ड्यूटी पर ना आने के फैसले पर तत्काल प्रभाव से अगले निर्देशों तक बंद कर दिया है।इससे सभी की परेशानी बढ़ गई है।बता दे कि एसीएल इकाई दाड़लाघाट में कार्य कर रही अडानी समूह ने अपने कब्जे में लिया है। अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड के मुख्य निर्माण अधिकारी नॉर्थ एक मनोज जिंदल द्वारा जारी आदेशों में कहा है कि वर्तमान में परिवहन और कच्चे माल की लागत में वृद्धि और बाजार की मौजूदा परिस्थितियों के कारण सीमेंट की ढुलाई में भारी कमी आईं है।आदेशो में ढुलाई व कच्चे माल के दाम बढ़ने से घाटे का हवाला देकर अनिश्चितकालीन के लिए कर्मचारियों को घर पर रहने के लिए कहा है। आदेशों में कहा है कि मौजूदा परिस्थितियों में कंपनी के बाजार हिस्से पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है ओर परिणामस्वरूप कंपनी को भारी वित्तीय नुकसान उठाना पड़ रहा है। एसीएल ने नोटिस जारी कर कंपनी के कर्मचारियों और कामगारों को ड्यूटी पर नहीं आने के लिए कहा है। जानकारी के अनुसार कंपनी में करीब 800 कर्मचारी जिनमें 500 नियमित और 300 अस्थायी कर्मचारी काम करते हैं। कंपनी के साथ करीब 3500 ट्रक परिवहन कार्य मे लगे है।इससे कंपनी में माल ढुलाई करने वाले ट्रक ऑपरेटरों की रोजी-रोटी पर भी संकट आ गया है।

गौर रहे कि बीते दिनों से एसीएल प्रबंधन दाड़लाघाट प्रबंधन के बीच भी परेशानी बढ़ी हुई है व अभी तक कोई हल नही निकाला पाया है।अडानी समूह ने बीते दिनों जारी एक पत्र में कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों को कहा है कि ट्रक को परिवहन कार्य या कंपनी में नौकरी का विकल्प चुने।कंपनी प्रबंधन ने 15 नवंबर को एक सहमति पत्र जारी किया था ओर ट्रक को उनके या उनके परिवार के सदस्यों के स्वामित्व वाले ट्रकों का विवरण प्रस्तुत करने के लिए 90 दिनों का समय दिया था जो इसके साथ परिवहन कार्य में लगे हुए थे।सहमति प्रपत्र में कहा कि कंपनी का कर्मचारी होने के नाते,उसके या उसके परिवार के परिवहन कार्य में शामिल होने से हितों का टकराव होता है।कंपनी की नीति अनुसार,कर्मचारी एक निश्चित अवधि के भीतर या तो इस्तीफा दे या अपने ट्रक का निपटान करे।यदि वे स्वयं ऐसा नही कर सकते है तो कंपनी ने उन्हें अपने ट्रक के निपटान की सुविधा का विकल्प भी दिया है।

गौर रहे कि प्रदेश में सीमेंट के दाम में पिछले दो दिन पहले ही करीब पांच रुपये प्रति बैग बढ़ाने पर कांग्रेस की नवनिर्वाचित सरकार ने मामले में समीक्षा करने के आदेश दिए थे।जिस पर बुधवार देर रात एसीएल प्रबंधन ने आदेश जारी कर यह फरमान जारी किया है।

एसडीटीओ दाड़लाघाट के प्रधान जयदेव कौंडल ने इस बारे कहा कि उनकी कंपनी प्रबंधक के साथ पिछले दिन पुराने रेट प्रति किलोमीटर 10 रुपये प्रति टन माल ढुलाई को लेकर बात हुई थी,लेकिन कम्पनी चाहती है कि प्रति किलोमीटर 6 रुपए प्रति टन के हिसाब से माल ढुलाई हो । उन्होंने कहा कि कम्पनी के अनिश्चितकाल तक बन्द होने को लेकर सभी यूनियनों की कल दाड़लाघाट में बैठक रखी है । जिसमें आगामी रणनीति को लेकर चर्चा की जाएगी ।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

मोसम का हाल
स्टॉक मार्केट
क्रिकेट लाइव
यह भी पढ़े
अन्य खबरे
- Advertisement -