test
Monday, June 17, 2024

अर्की की डॉ0 कृष्णा ने केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल (मणिपुर) में सहायक प्रोफेसर का संभाला कार्यभार ।

- Advertisement -

बाघल टुडे (अर्की):- उपमण्डल अर्की की ग्राम पंचायत रोहांज-जलाना के गांव ग्रेडा (जलाना) की बेटी कृष्णा के केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल (मणिपुर) में सहायक प्रोफेसर बनने पर क्षेत्र में खुशी की लहर है। ग्राम वासियों दुलीचन्द,चमन,विजय,टेकचंद, रवि आदि का कहना है कि यह उनके गांव के लिये गौरव का विषय है । कृष्णा के पिता चैतराम कृषक व माता चम्पा गृहणी है। पिता चैतराम ने बताया कि कृष्णा बाल्यकाल से ही पढ़ाई में बहुत होनहार रही है और हमेशा अपनी कक्षा में प्रथम आती रही है। कृष्णा ने अपनी प्राथमिक शिक्षा स्थानीय सरकारी विद्यालय जलाणा से ग्रहण की। उसके उपरांत उसने पढ़ाई हेतू राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अर्की में प्रवेश लिया,जहां से उसने 10वीं व 12वीं की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उतीर्ण की। उसके उपरांत वाईएस परमार यूनिवर्सिटी ऑफ हॉर्टिकल्चर एंड फॉरेस्ट्री नौणी(सोलन)से बीएससी प्रथम श्रेणी में उतीर्ण की। इसके उपरांत कृष्णा कर्नाटक की यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर साइंस धनबाद में एमएससी में गोल्ड मेडलिस्ट बनी। कृष्णा ने 2024 में पीएचडी एफआरआई देहरादून से उत्तीर्ण की। कृष्णा के पिता ने बताया कि उनके पास संसाधन बहुत ही सीमित थे पर उन्होंने अपने बच्चों के कैरियर बनाने के लिए जी तोड़ मेहनत की और आज उनकी बेटी के इस मुकाम से वे गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उनकी बेटी की इस उपलब्धि पर पंचायत प्रधान सुनीता गर्ग,उप प्रधान जोगेंद्र कौशल,पलोग पंचायत के पूर्व प्रधान योगेश चौहान ,जलाना पंचायत के पूर्व उपप्रधान सुनील पंवर सहित अन्य लोगों ने कृष्णा के माता पिता को बधाई दी है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

मोसम का हाल
स्टॉक मार्केट
क्रिकेट लाइव
यह भी पढ़े
अन्य खबरे
- Advertisement -