Thursday, May 23, 2024

हिमाचल के तीन नए मंत्री फाइनल, सीएम सुक्खू-प्रतिभा सिंह के लौटते ही हो सकता है ऐलान ।

- Advertisement -

बाघल टुडे (ब्यूरो):- हिमाचल की सियासत पर दिल्ली मंथन पूरा हो गया है। आखिरी दिन मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू और प्रतिभा सिंह की मुलाकात हुई। इस दौरान सरकार और संगठन में तालमेल पर आगामी रणनीति तैयार की गई है। प्रदेश में खाली चल रहे तीन मंत्रिपदों समेत राजधानी में मेयर और डिप्टी मेयर के नाम पर भी सहमति बनी है। अब प्रदेश के दोनों बड़े नेताओं के हिमाचल पहुंचते ही नामों का ऐलान हो सकता है। नगर निगम चुनाव में कांग्रेस ने 24 सीटें जीती हैं। कांग्रेस ने 17 महिलाओं का टिकट दी थी और इनमें से 14 ने चुनाव जीत लिए हैं। मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के बीच मेयर पद महिला को देने पर भी चर्चा हुई है। ऐसी स्थिति में डिप्टी मेयर चुनाव जीते 10 पुरुषों में से किसी एक को दिया जा सकता है। आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर संगठन और सरकार में तालमेल पर भी दिल्ली में वार्तालाप हुआ है।

गौरतलब है कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह तीन दिवसीय दौरे पर दिल्ली गई हैं। इस दौरान दो दिन तक लगातार उनकी बैठकें पार्टी हाईकमान से तय थीं, लेकिन कर्नाटक चुनाव की वजह से ज्यादातर आलानेता दिल्ली से बाहर थे। प्रतिभा सिंह ने पहले हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला और केसी वेणुगोपाल से मुलाकात की। इसके बाद मंगलवार को मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू से उनकी मुलाकात हुई है। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू कर्नाटक चुनाव में बतौर स्टार प्रचारक हिस्सा लेने गए थे। दिल्ली में दोनों नेताओं ने हिमाचल की राजनीति से जुड़े कई अहम मसलों पर चर्चा की। इनमें सरकार में खाली तीन मंत्रिपदों को भरने सहित निगम और बोर्ड में तैनातियों पर भी बातचीत की है। प्रदेश में आगामी दिनों में इन पदों को भरने को लेकर भी राज्य सरकार कदम उठा सकती है।

इन जिलों से आ सकते हैं नए नाम

मंत्रिपदों की बात करें तो कांगड़ा, हमीरपुर और बिलासपुर जिलों से नए मंत्रियों के नाम इस सूची में सामने आ सकते हैं और इन नामों का ऐलान जल्द ही हो सकता है। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांगड़ा में कांग्रेस बड़ा फैसला ले सकती है। यहां से मंत्रिपद को लेकर नाराजगी जगजाहिर हो चुकी है। खास बात यह है कि इस मुलाकात के बाद प्रदेश में संगठनात्मक तौर पर भी कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं। विधानसभा और नगर निगम चुनाव में सक्रिय भूमिका निभाने वालों की ताजपोशी करने की तैयारी की जा रही है, जबकि ऐसे पदाधिकारी जो परिणाम नहीं दे सके हैं, उन्हें कुछ समय के लिए ब्रेक दिया जा सकता है।

महिला को मिलेगा बड़ा ओहदा

शिमला नगर निगम में कांग्रेस ने 24 सीटों पर जीत दर्ज की है। अभी तक मेयर और डिप्टी मेयर को लेकर रोस्टर जारी नहीं हुआ है। नगर निगम में कुल 34 वार्ड हैं और इनमें से 17 महिलाओं के लिए आरक्षित थे, लेकिन इस बार भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों से 20 महिलाएं चुनाव जीत गई हैं। इनमें 14 वार्डों में कांग्रेस से, जबकि छह वार्र्डांे में भाजपा से महिलाओं की जीत हुई है। दिल्ली में चर्चा से पहले पीडब्ल्ल्यूडी मंत्री विक्रमादित्य सिंह और मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार नरेश चौहान इस बार महिलाओं को बड़ा ओहदा देने की पैरवी कर चुके हैं। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू और प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह के बीच भी मेयर और डिप्टी मेयर के नामों को लेकर चर्चा हुई है। इसका खुलासा जल्द होने वाला है

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

मोसम का हाल
स्टॉक मार्केट
क्रिकेट लाइव
यह भी पढ़े
अन्य खबरे
- Advertisement -