Thursday, April 18, 2024

एसडीएम केशव राम बने ड्राइवर,चालक की रिटायरमेंट पर खुद गाड़ी चलाकर छोड़ने गए घर ।

- Advertisement -

बाघल टुडे (अर्की):- रिटायरमेंट पर ड्राइवर इंद्रजीत सिंह को एसडीएम ऐसी विदाई देंगे उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था । जिस ड्राइवर ने एसडीएम के लिए गाड़ी चलाकर नौकरी पूरी की,रिटायरमेंट पर एसडीएम उसके ड्राइवर बने । रिटायरमेंट पर एसडीएम ने खुद ड्राइवर बनकर स्टेयरिंग संभाली और आगे वाली सीट पर उन्होंने ड्राइवर इंद्रजीत सिंह को बैठाया । एसडीएम का अपने रिटायर ड्राइवर के लिए ये सम्मान देखकर लोग भी हैरान रह गए।
कर्मचारी के सम्मान की यह मिसाल अर्की की है, जहाँ बुधवार को एसडीएम एचएएस केशव राम ने अपने ड्राइवर को यादगार विदाई दी । ड्राइवर बनकर एसडीएम खुद ड्राइवर को कार्यालय से रोहांज जलाणा पंचायत के गांव सलाहघाटी में उनके निवास स्थान तक छोड़ने गए। इंद्रजीत सिंह ने राजस्व विभाग में बतौर चालक 33 वर्षो तक अपनी सेवाएं प्रदान की। उनकी नौकरी वर्ष 1989 में राजस्व विभाग सोलन में लगी थी । उसके बाद वर्ष 1990 में उनका तबादला अर्की एसडीएम कार्यालय हो गया था । वह हमेशा समय के पाबन्द रहे व ईमानदार छवि के माने जाते रहे है । इन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान करीब डेढ़ दर्जन एसडीएम अधिकारियों के साथ नौकरी की । इन्द्रजीत सिंह ने कहा कि आज वह एसडीएम कार्यालय से ड्राइवर के पद से रिटायर हो रहे है । आज उन्हें एसडीएम केशव राम द्वारा उनका सारथी बनकर घर छोड़ना उनके लिए एक सम्मान जनक विदाई है। इसके लिए वह उनका आभार व धन्यवाद व्यक्त करते है । एसडीएम अर्की केशवराम कहा ने इंद्रजीत ने उनके साथ लगभग छः महीने अपनी सेवाएं दी । यह अपने काम के प्रति समर्पित होने के साथ एक ईमानदार थे । उन्होंने कहा कि वह उनके उज्जवल भविष्य के साथ स्वास्थ्य व दीर्घायु की कामना करते है । उनकी विदाई के मौके पर तहसीलदार रमन ठाकुर, नायाब तहसीलदार राजवीर सेठी,कोषाधिकारी सार्थक नेगी,ब्रह्मानन्द,जितेंद्र सहित अन्य मौजूद रहे ।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

मोसम का हाल
स्टॉक मार्केट
क्रिकेट लाइव
यह भी पढ़े
अन्य खबरे
- Advertisement -