test
Saturday, June 22, 2024

विश्व स्तरीय सुविधाओं से सम्पन्न होगा डीसीएम लैंड ऑफ गॉड्स स्कूल,शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिये नर्सरी कक्षा से आठवी कक्षा तक के दाखिले हुए शुरू।

- Advertisement -

बाघल टुडे (अर्की):- भारत में शिक्षा क्षेत्र में पिछले लगभग आठ दशकों से अग्रणीय डीएसएम ग्रुप ऑफ़ स्कूल्ज द्वारा सोलन के अर्की सब-डिवीज़न में एक विश्वस्तरीय आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित डीसीएम लैंड ऑफ गॉड्स स्कूल (डीसीएम -लॉग्स) की स्थापना की गई है । जिससे इस क्षेत्र के बच्चों को विश्वस्तरीय शिक्षा का लाभ मिलेगा वहीँ समूह क्षेत्र की आर्थिक उन्नति के साथ- साथ रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे |

जानकारी देते हुए डीसीएम ग्रुप ऑफ़ स्कूल्ज के पीआरओ विक्रम दित्या शर्मा ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के आने से समूह इलाके के लोगों में उत्साह की भावना पाई जा रही है तथा वे दिन दूर नहीं जब यहाँ के बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर देश विदेश में इस क्षेत्र का नाम रोशन करेंगे |

ये वर्णनीय है कि डीसीएम ग्रुप ऑफ़ स्कूल्ज को देश की सर्वश्रेष्ठ इंडस्ट्रियल व शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा विभिन्न्न सम्मानों से सम्मानित किया जा चुका है| हाल ही में जहाँ एसोचेम द्वारा डीसीएम ग्रुप को देश के नंबर एक शैक्षणिक संसथान का अवार्ड दिया वहीँ ब्रेनफीड द्वारा भी ग्रुप को “मोस्ट प्रोग्रेसिव स्कूल चेन ” के अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है | इसके अतिरिक्त भी समय- समय पर प्रमुख संस्थानों द्वारा ग्रुप को सम्मानित किया जाता रहा है |

डीसीएम -लॉग्स के जनरल मैनेजर योगेश वर्मा ने बताया कि शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिये नर्सरी कक्षा से आठवी कक्षा तक के दाखिले आरम्भ हो चुके है जिसको लेकर विद्यार्थियो और अभिभावको में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूल कें विद्यार्थियो के लिए इको-फ्रैंडली ग्रीन स्कूल कैंपस, बेहतरीन इंफ्रास्टक्चर, हाई-टैक रिसोर्स सैंटर के साथ-साथ बेहतरीन खेल सुविधाओ का भी प्रबंध किया गया है।

उन्होंने बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणीय डीसीएम ग्रुप का विश्वप्रसिद्ध संस्थानों जैसे माइक्रोसॉफ्ट, खान अकैडमी, आईडीपी, कैंब्रिज बोर्ड, बेनेसी के साथ गठजोड़ है और यहां के प्रशिक्षक भी डी-लॉग्स के विद्यार्थियो को समय-समय पर प्रशिक्षण देंगे। इसके साथ ही स्कूल द्वारा विद्यार्थियो के भीतर क्रिएटिविटी व आत्मविश्वास पैदा करने के लिए उनमें इंग्लिश सहित अन्य भाषा सीखने के स्किल्स भी विकसित किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि स्कूल में विद्यार्थियो को पढ़ाने के लिए ट्रेनड स्टॉफ व स्पोर्ट्स कोचेज की नियुक्ति की गई है और उनके द्वारा समय-समय पर विशेष ट्रेनिंग सैशन भी लगाए जाएंगे ताकि वह विद्यार्थियो को ऐसी शिक्षा मुहैया करवा सके जो उनके भविष्य में फायदेमंद साबित हो और जिससे वे अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त कर पाएं।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

मोसम का हाल
स्टॉक मार्केट
क्रिकेट लाइव
यह भी पढ़े
अन्य खबरे
- Advertisement -